Coronavirus (COVID-19) : कोरोना से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकार के प्रयास सराहनीय: वीरभद्र       लोगों से सद्व्यवहार करे पुलिस वाले, मुर्गा बनाना व गालीगलौच है शतप्रतिशत बदतमीजी, पुलिस वालों को डीजीपी ने दी नसीहत, पढ़े विस्तार से       कोरोना वायरस : मकानमालिकों को एक महीने तक किराया नहीं लेने के केंद्र सरकार के आदेश, पढ़ें पूरी खबर       शिमला में आज ये रहेंगे फल- सब्जियों के दाम, तय दामों से अधिक बसूलने वालों के खिलाफ होगी कार्यवाही       आज का पंचांग: 30 मार्च 2020 (सोमवार); जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय       आज का राशिफ़ल: 30 मार्च 2020; जानिए कैसा रहेगा आपका दिन       हिमाचल के लोग कर्फ्यू/लॉक डाउन का करे पालन, पुलिस को शख्ती के लिए न करे मजबूर - डीजीपी मरडी       लॉकडाउन को ठीक से ना लागू करवाने पर इन बड़े 4 अधिकारियों पर गिरी गाज, सरकार ने किए सस्पेंड, पढ़ें विस्तार से       टांडा अस्पताल में ठीक हुए कोरोना पॉजिटिव को मिली अस्पताल से छुट्टी, पढ़े विस्तार से       शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने जरुरतमंदों को बांटा राशन      

पंचांग

आज का राशिफ़ल: 10 जनवरी 2020; जानिए कैसा रहेगा आपका दिन

January 10, 2020 08:54 AM

हिन्दू पंचांग पाँच अंगो के मिलने से बनता है, ये पाँच अंग इस प्रकार हैं :-

1:- तिथि (Tithi) 2:- वार (Day) 3:- नक्षत्र (Nakshatra) 4:- योग (Yog) 5:- करण (Karan)

पंचांग का पठन एवं श्रवण अति शुभ माना जाता है इसीलिए भगवान श्रीराम भी पंचांग का श्रवण करते थे ।

जानिए शुक्रवार का पंचांग

*शास्त्रों के अनुसार तिथि के पठन और श्रवण से माँ लक्ष्मी की कृपा मिलती है । *वार के पठन और श्रवण से आयु में वृद्धि होती है। * नक्षत्र के पठन और श्रवण से पापो का नाश होता है। *योग के पठन और श्रवण से प्रियजनों का प्रेम मिलता है। उनसे वियोग नहीं होता है । *करण के पठन श्रवण से सभी तरह की मनोकामनाओं की पूर्ति होती है ।

इसलिए हर मनुष्य को जीवन में शुभ फलो की प्राप्ति के लिए नित्य पंचांग को देखना, पढ़ना चाहिए । शुक्रवार का पंचांग

10 जनवरी शुक्रवार 2020

महालक्ष्मी मन्त्र :

ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्मयै नम:॥

।। आज का दिन मंगलमय हो ।।

दिन (वार) - शुक्रवार के दिन दक्षिणावर्ती शंख से भगवान विष्णु पर जल चढ़ाकर उन्हें पीले चन्दन अथवा केसर का तिलक करें। इस उपाय में मां लक्ष्मी जल्दी प्रसन्न हो जाती हैं।

धन लाभ के लिए इस दिन शाम के समय घर के ईशान कोण / मंदिर में गाय के घी का दीपक लगाएं। इसमें रुई के स्थान पर लाल रंग के धागे से बनी बत्ती का उपयोग करें और दिये में थोड़ी केसर भी डाल दें।

*विक्रम संवत् 2076 संवत्सर कीलक तदुपरि सौम्य*शक संवत - 1941 *अयन - उत्तरायण *ऋतु - शरद ऋतु *मास - पौष माह *पक्ष - शुक्ल पक्ष

तिथि (Tithi)- पूर्णिमा - 24:50+ तक तदुपरांत प्रतिपदा

तिथि का स्वामी - पूर्णिमा तिथि के स्वामी शिव है एवं प्रतिपदा तिथि के स्वामी दुर्गा जी है ।

आज अति पूर्ण दायक पौष पूर्णिमा है। पूर्णिमा के दिन भगवान शिव को सफ़ेद चंदन एवं सफ़ेद फूल चढ़ाते हुए साबूदाने की खीर का भोग लगाएं, परिवार में सुख सौभाग्य की वर्षा होगी, रोग और संकट दूर रहते है |

पूर्णिमा के दिन अपनी समस्त मनोकामनाओं की पूर्ति हेतु दूध में शहद एवं चन्दन मिलाकर छाया देखकर चंद्रमा को अर्घ्य दें।

नक्षत्र (Nakshatra)- आर्द्रा - 14:49 तक तदुपरांत पुनर्वसु

नक्षत्र के देवता- आर्द्रा नक्षत्र के देवता क्षीर (जल ) है एवं रेवती नक्षत्र के देवता विश्वदेव (अभिजित-विधि विधाता) है ।

योग(Yog) - इन्द्र - 16:47 तक

प्रथम करण : - विष्टि - 13:46 तक

द्वितीय करण : - बव - 24:50+ तक

गुलिक काल : - शुक्रवार को शुभ गुलिक दिन 7:30 से 9:00 तक ।

दिशाशूल (Dishashool)- शुक्रवार को पश्चिम दिशा का दिकशूल होता है । यात्रा, कार्यों में सफलता के लिए घर से दही खाकर जाएँ ।

राहुकाल (Rahukaal)-दिन - 10:30 से 12:00 तक।

सूर्योदय -प्रातः 07:19

सूर्यास्त - सायं 17:34

विशेष - पूर्णिमा के दिन स्त्री सहवास तथा तिल का तेल, लाल रंग का साग तथा कांसे के पात्र में भोजन करना मना है।

पर्व त्यौहार- पौष पूर्णिमा

मुहूर्त (Muhurt) - पूर्णिमा तिथि को विवाह, शिल्प, मंगल कार्य, संग्राम, वास्तु कर्म, यज्ञ क्रिया, प्रतिष्ठा आदि कार्य कर सकते हैं।

"हे आज की तिथि ( तिथि के स्वामी ), आज के वार, आज के नक्षत्र ( नक्षत्र के देवता और नक्षत्र के ग्रह स्वामी ), आज के योग और आज के करण, आप इस पंचाग को सुनने और पढ़ने वाले जातक पर अपनी कृपा बनाए रखे, इनको जीवन के समस्त क्षेत्रो में सदैव हीं श्रेष्ठ सफलता प्राप्त हो "।

आप का आज का दिन अत्यंत मंगल दायक हो ।

Have something to say? Post your comment

पंचांग में और

आज का पंचांग: 30 मार्च 2020 (सोमवार); जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

आज का पंचांग: 28 मार्च 2020 (शनिवार); जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

आज का पंचांग: 25 मार्च 2020 (गुरुवार); जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

शनिवार का पंचांग: 21 मार्च 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

शुक्रवार का पंचांग : 20 मार्च, 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

मंगलवार का पंचांग: 17 मार्च 2020; जानिए आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय

सोमवार का पंचांग: 16 मार्च 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

रविवार का पंचांग: 15 मार्च 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त

शनिवार का पंचांग: 14 मार्च, 2020; आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

शुक्रवार का पंचांग : जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय