शिमला के हर कोने से दिखेगी 108 फीट ऊंची भव्य,आकर्षक और नए रूप में हनुमान जी की मूर्ति, रेनोवेशन का काम हुआ पूरा -       मुख्यमंत्री ने कांगड़ा जिले को करोड़ो की विकासात्मक परियोजनाएं की समर्पित       कोरोना से निपटने के बजाये मुख्यमंत्री को मिशन रिपीट की चिंता: राठौर       NPS के संहारे राजनीति कर रहे हैं राजन सुशांत: विनोद ठाकुर       मण्डियोें में पहुंची 8.70 लाख से अधिक सेब की पेटियां       केरल विमान हादसे में 18 लोगों की मौत       शनिवार का पंचांग: 08 अगस्त 2020; जानिए आज का शुभमुहूर्त       शनिवार का राशिफ़ल : 08 अगस्त, 2020; जानिए कैसा रहेगा आपका दिन       कोरोना वायरस : 24 घंटे में हिमाचल मे आए 100 कोरोना पॉजिटिव केस, जानें किस जिले में कितने मामले..       प्रदेश में भाजपा ने फैलाया कोरोना वायरस: राठौर      

देश/विदेश

केजरीवाल का फ्री वाला फॉर्मूला चल निकला, ममता और उद्धव भी राह पर

February 11, 2020 12:12 PM

नई दिल्ली: दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की जीत लगभग तय है. इस के साथ ही फ्री बिजली भी चर्चा में है. कहा जा रहा है ये फॉर्मूला काम कर गया. वोटरों ने झोली भर कर केजरीवाल की पार्टी को वोट दिया. अब जीत के इस फंडे को दूसरे मुख्य मंत्रियों ने आजमाने का मन बनाया है. ममता बनर्जी की सरकार ने मुफ्त बिजली देने का एलान भी कर दिया।

3 महीने में 75 यूनिट तक बिजली खपत करने वालों को ये सुविधा मिलेगी. इसका फायदा 35 लाख गरीब परिवारों को मिलेगा. ममता सरकार ने इसके लिए 200 करोड़ रुपये का बजट रखा है. अगले साल बंगाल में विधानसभा के चुनाव होने हैं. बीजेपी अध्यक्ष रहते हुए अमित शाह ने कहा था कि पार्टी का स्वर्णिम काल तब आयेगा जब बंगाल में सरकार बनेगी. बीजेपी ने ममता बनर्जी और उनकी पार्टी को हराने के लिए सारे घोड़े खोल दिए हैं।

लोकसभा चुनाव में मिली कामयाबी के बाद से बीजेपी हाई पर हैं. उनको 42 में से पार्टी को 18 सीटें मिली थीं. बीजेपी को 40.3% और टीएमसी को 43.3% वोट मिले थे. दोनों पार्टियों में सिर्फ 3 फीसदी वोट का अंतर था. ममता बनर्जी जानती हैं कि मुकाबला कांटे का हो सकता है. इसीलिए उन्होंने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को साथ कर लिया. अब वे आगे की सोच रही हैं. उन्हें केजरीवाल के फॉर्मूले में जीत की उम्मीद दिखने लगी है. इसीलिए दिल्ली वाला फ्री बिजली अब ममता दीदी बंगाल में जलाना चाहती हैं।

 प्रशांत किशोर को भी इस बात का डर है कि कहीं ममता इस गेम में ना फंस जाए. इसीलिए गरीब परिवारों को मुफ्त बिजली देकर अलग माहौल बनाने की तैयारी है. बंगाल की तरह महाराष्ट्र में भी फ्री बिजली देने पर काम शुरू हो गया है. उद्धव ठाकरे सरकार हर महीने 100 यूनिट बिजली फ्री देना चाहती है. इसके लिए बिजली विभाग के अफसरों को रिपोर्ट बनाने के लिए कहा गया है. तीन महीने की डेडलाइन दी गई है।

यूपी में दो साल बाद विधानसभा के चुनाव हैं. पिछली बार बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला था. लेकिन वहां बिजली काफी मंहगी है. दिल्ली का पड़ोसी राज्य होने के कारण यूपी के लोग इस बात का उलाहना भी देते हैं. तो क्या योगी सरकार दिल्ली का फॉर्मूला यूपी में लागू कर सकती है ?

Have something to say? Post your comment

देश/विदेश में और

केरल विमान हादसे में 18 लोगों की मौत

दुःखद खबर: कोरोना अस्पताल में लगी आग, तीन महिलाओं समेत 8 मरीजों की मौत

UP की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण का कोरोना वायरस से निधन

कोरोना वायरस: देश में कोरोना मरीजों की संख्या 17.50 लाख के पार, 24 घंटे में आए 54 हजार से ज्यादा नए केस

कोरोना वायरस : यमन में कोरोना संक्रमण से 97 चिकित्साकर्मियों की मौत

देश में कोरोना वायरस का शुरू हुआ सामुदायिक संक्रमण, गंगाराम अस्पताल के डॉक्टर का दावा

सचिन पायलट अब क्या करेंगे, पद छीने जाने के बाद उनके सामने हैं ये 5 विकल्प

देश में फिर नहीं लगेगा लॉकडाउन का ताला, माइक्रो स्तर पर चलेगा काम

नेपाल: ओली-प्रचंड में छह दिन बाद वार्ता का दौर फिर शुरू

आखिर नतीजे पर पहुंची पुलिस, सामने आया सुशांत सिंह राजपूत की मौत का सच!