Coronavirus (COVID-19) : कोरोना से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकार के प्रयास सराहनीय: वीरभद्र       लोगों से सद्व्यवहार करे पुलिस वाले, मुर्गा बनाना व गालीगलौच है शतप्रतिशत बदतमीजी, पुलिस वालों को डीजीपी ने दी नसीहत, पढ़े विस्तार से       कोरोना वायरस : मकानमालिकों को एक महीने तक किराया नहीं लेने के केंद्र सरकार के आदेश, पढ़ें पूरी खबर       शिमला में आज ये रहेंगे फल- सब्जियों के दाम, तय दामों से अधिक बसूलने वालों के खिलाफ होगी कार्यवाही       आज का पंचांग: 30 मार्च 2020 (सोमवार); जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय       आज का राशिफ़ल: 30 मार्च 2020; जानिए कैसा रहेगा आपका दिन       हिमाचल के लोग कर्फ्यू/लॉक डाउन का करे पालन, पुलिस को शख्ती के लिए न करे मजबूर - डीजीपी मरडी       लॉकडाउन को ठीक से ना लागू करवाने पर इन बड़े 4 अधिकारियों पर गिरी गाज, सरकार ने किए सस्पेंड, पढ़ें विस्तार से       टांडा अस्पताल में ठीक हुए कोरोना पॉजिटिव को मिली अस्पताल से छुट्टी, पढ़े विस्तार से       शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने जरुरतमंदों को बांटा राशन      

पंचांग

आज का पंचांग: 19 फरवरी 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

February 19, 2020 07:26 AM

हिन्दू पंचांग पाँच अंगो के मिलने से बनता है, ये पाँच अंग इस प्रकार हैं :- 1:- तिथि (Tithi) 2:- वार (Day) 3:- नक्षत्र (Nakshatra) 4:- योग (Yog) 5:- करण (Karan)

पंचांग का पठन एवं श्रवण अति शुभ माना जाता है इसीलिए भगवान श्रीराम भी पंचाग पंचांग का श्रवण करते थे ।

जानिए बुधवार का पंचांग

*शास्त्रों के अनुसार तिथि के पठन और श्रवण से माँ लक्ष्मी की कृपा मिलती है । *वार के पठन और श्रवण से आयु में वृद्धि होती है। * नक्षत्र के पठन और श्रवण से पापो का नाश होता है। * योग के पठन और श्रवण से प्रियजनों का प्रेम मिलता है। उनसे वियोग नहीं होता है । *करण के पठन श्रवण से सभी तरह की मनोकामनाओं की पूर्ति होती है ।

इसलिए हर मनुष्य को जीवन में शुभ फलो की प्राप्ति के लिए नित्य पंचाग को देखना, पढ़ना चाहिए ।

बुधवार का पंचांग

19 फरवरी 2020

गणेश गायत्री मंत्र :

ॐ एकदन्ताय विद्महे वक्रतुंडाय धीमहि तन्नो बुदि्ध प्रचोदयात ।।

।। आज का दिन मंगलमय हो ।।

दिन (वार) - बुधवार के दिन तेल का मर्दन करने से अर्थात तेल लगाने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती है धन लाभ मिलता है। बुधवार का दिन विघ्नहर्ता गणेश का दिन हैं। इस दिन गणेशजी की पूजा अर्चना से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

*विक्रम संवत् 2076 संवत्सर कीलक तदुपरि सौम्य *शक संवत - 1941 *अयन - उत्तरायण *ऋतु - शरद ऋतु *मास - फाल्गुन माह *पक्ष - कृष्ण पक्ष

तिथि (Tithi)- एकादशी - 15:02 तक तदुपरांत द्वादशी

तिथि का स्वामी - एकादशी तिथि के स्वामी विश्वदेव जी है एवं द्वादशी तिथि के स्वामी विष्णु जी है ।

आप सभी को विजया एकादशी की हार्दिक शुभकामनाएं। आजअति पूर्ण दायक विजया एकादशी है। एकादशी के दिन भगवान श्रीविष्णु का केसर मिश्रित दूध से अभिषेक करने से भगवान अपने भक्त से शीघ्र प्रसन्न हो जाते है जातक को जीवन में कभी भी आर्थिक संकट का सामना नहीं करना पड़ता है , उसका घर सदैव धन धान्य से भरा रहता है ।

एकादशी के दिन श्री सूक्त का पाठ करने से माँ लक्ष्मी उस जातक का कभी भी साथ नहीं छोड़ती है।

नक्षत्र (Nakshatra)- पूर्वाषाढा - पूर्ण रात्रि तक

नक्षत्र के देवता, ग्रह स्वामी- पूर्वाषाढा नक्षत्र के देवता क्षीर (जल ) है एवं उत्तरा शाडा नक्षत्र के देवता विश्वदेव (अभिजित-विधि विधाता) है ।

योग(Yog) - वज्र - 07:51 तक सिद्धि

प्रथम करण : - बालव - 15:02 तक

द्वितीय करण : - कौलव - 27:27+ तक

गुलिक काल : - बुधवार को शुभ गुलिक 10:30 से 12 बजे तक ।

दिशाशूल (Dishashool)- बुधवार को उत्तर दिशा में दिशा शूल होता है । इस दिन कार्यों में सफलता के लिए घर से सुखा/हरा धनिया या तिल खाकर जाएँ ।

राहुकाल: बुधवार को राहुकाल दिन 12:00 से 1:30 तक

सूर्योदय - प्रातः 06:59

सूर्यास्त - सायं 18:11

विशेष - एकादशी में चावल और सेम की फली नहीं खानी चाहिए , इस दिन इनके सेवन से पाप और रोग बढ़ता है ।

पर्व त्यौहार- विजया एकादशी

मुहूर्त (Muhurt) - एकादशी तिथि व्रत, उपवास, धार्मिक कृत्य, देवोत्सव, उद्यापन तथा कथा एकादशी में शुभ है।

"हे आज की तिथि (तिथि के स्वामी), आज के वार, आज के नक्षत्र (नक्षत्र के देवता और नक्षत्र के ग्रह स्वामी ), आज के योग और आज के करण, आप इस पंचाग को सुनने और पढ़ने वाले जातक पर अपनी कृपा बनाए रखे, इनको जीवन के समस्त क्षेत्रो में सदैव हीं श्रेष्ठ सफलता प्राप्त हो "।

आप का आज का दिन अत्यंत मंगल दायक हो ।

Have something to say? Post your comment

पंचांग में और

आज का पंचांग: 30 मार्च 2020 (सोमवार); जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

आज का पंचांग: 28 मार्च 2020 (शनिवार); जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

आज का पंचांग: 25 मार्च 2020 (गुरुवार); जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

शनिवार का पंचांग: 21 मार्च 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

शुक्रवार का पंचांग : 20 मार्च, 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

मंगलवार का पंचांग: 17 मार्च 2020; जानिए आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय

सोमवार का पंचांग: 16 मार्च 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

रविवार का पंचांग: 15 मार्च 2020; जानिए आज का शुभ मुहूर्त

शनिवार का पंचांग: 14 मार्च, 2020; आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

शुक्रवार का पंचांग : जानिए आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय