हाथरस मामले में दलित शोषण मुक्ति मंच ने राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन योगी सरकार की बर्खास्तगी की मांग       शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर कोरोना पॉजिटिव       गुरुवार का पंचांग : 29 अक्तूबर, 2020; ये है आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय       आज का राशिफल : इन राशिवालों को रहेगा आज खास दिन, पढ़े अपना राशिफ़ल विस्तार से       शिमला में देर रात होटल में लगी आग, लाखों का नुकसान       प्रदेश में 20 नए औद्योगिक उपक्रम स्थापित करने और कई विस्तार प्रस्तावों को मंजूरी       ऑनलाइन शिक्षा के लिए शिक्षा मंत्री ने किया जिओ टीवी के एलिमेंट्री, हायर और वोकेशनल तीन चैनलों का शुभारम्भ       हिमाचल देवभूमि और वीरभूमि उद्धव ठाकरे का बयान दुर्भाग्यपूर्ण पढ़े हिमाचल का इतिहास : सुरेश कश्यप       इस नम्बर पर वाट्सऐप से करें शिकायत, तुरंत कार्रवाई करेगी शिमला पुलिस, पढ़े पूरी खबर       हिमाचल प्रदेश डाक विभाग करेगा राज्य स्तरीय वर्चुअल फिलेटली प्रदर्शनी का आयोजन, प्रथम स्थान पर आने वाले को मिलेगा ये इनाम      

पंचांग

मंगलवार का पंचांग : 22 सितम्बर 2020; ये है आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय

September 22, 2020 12:48 PM

हिन्दू पंचांग पाँच अंगो के मिलने से बनता है, ये पाँच अंग इस प्रकार हैं :- 1:- तिथि (Tithi) 2:- वार (Day) 3:- नक्षत्र (Nakshatra) 4:- योग (Yog) 5:- करण (Karan)

पंचांग का पठन एवं श्रवण अति शुभ माना जाता है इसीलिए भगवान श्रीराम भी पंचाग (panchang) का श्रवण करते थे ।

जानिए मंगलवार का पंचांग

*शास्त्रों के अनुसार तिथि के पठन और श्रवण से माँ लक्ष्मी की कृपा मिलती है ।

*वार के पठन और श्रवण से आयु में वृद्धि होती है।

* नक्षत्र के पठन और श्रवण से पापो का नाश होता है।

* योग के पठन और श्रवण से प्रियजनों का प्रेम मिलता है। उनसे वियोग नहीं होता है ।

*करण के पठन श्रवण से सभी तरह की मनोकामनाओं की पूर्ति होती है ।

इसलिए हर मनुष्य को जीवन में शुभ फलो की प्राप्ति के लिए नित्य पंचांग को देखना, पढ़ना चाहिए ।

मंगलवार का पंचांग

22 सितंबर, मंगलवार 2020

हनुमान जी का मंत्र : हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट् ।

।। आज का दिन मंगलमय हो ।।

दिन (वार) - मंगलवार के दिन क्षौरकर्म अर्थात बाल, दाढ़ी काटने या कटाने से उम्र कम होती है। अत: इस दिन बाल और दाढ़ी नहीं कटवाना चाहिए । मंगलवार को बजरंगबली की पूजा का विशेष महत्व है।

दिशाशूल - मंगलवार को उत्तर दिशा का दिकशूल होता है । यात्रा, कार्यों में सफलता के लिए घर से गुड़ खाकर जाएँ ।

राष्ट्रीय मिति भाद्रपद 31, शक सम्वत 1942, आश्विन शुक्ल षष्ठी मंगलवार विक्रम संवत् 2077। सौर आश्विन मास प्रविष्टे 07 सफर 04, हिजरी 1442 (मुस्लिम) तदनुसार अंग्रेजी तारीख 22 सितंबर सन् 2020 ई॰। सूर्य दक्षिणायन, दक्षिण गोल, शरद ऋतुः।

राहुकाल अपराह्न 03 बजे से 04 बजकर 30 मिनट तक षष्ठी तिथि रात्रि 09 बजकर 32 मिनट तक उपरांत सप्तमी तिथि का आरंभ, अनुराधा नक्षत्र सायं 07 बजकर 07 मिनट तक उपरांत ज्येष्ठा नक्षत्र का आरंभ।

प्रीति अर्धरात्रोत्तर 01 बजकर 56 मिनट तक उपरांत ज्येष्ठा नक्षत्र का आरंभ, कौलव करण पूर्वाह्न 10 बजकर 38 मिनट तक उपरांत गर करण का आरंभ। चंद्रमा दिन-रात वृश्चिक राशि पर संचार करेगा।

सूर्योदय का समय 22 स‍ितंबर : सुबह 06 बजकर 09 म‍िनट पर।

सूर्यास्त का समय 22 स‍ितंबर : शाम 06 बजकर 17 मिनट पर।

आज का शुभ मुहूर्त : अभिजीत मुहूर्त 11 बजकर 49 म‍िनट से 12 बजकर 38 म‍िनट तक। विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजकर 15 मिनट से दोपहर 03 बजकर 03 मिनट तक। निशीथ काल रात 11 बजकर 50 म‍िनट से 23 स‍ितंबर रात 12 बजकर 37 मि‍नट तक। अमृत काल सुबह 09 बजकर 34 म‍िनट से 11 बजकर 04 म‍िनट तक।

आज का अशुभ मुहूर्त : राहुकाल दोपहर 03 बजे से 4 बजकर 30 म‍िनट तक। यमगंड सुबह 09 बजकर 11 म‍िनट से 10 बजकर 42 म‍िनट तक। गुल‍िक काल दोपहर 12 बजकर 13 म‍िनट से 01 बजकर 44 म‍िनट तक।

आज का उपाय : हनुमानजी की पूजा करें, मंद‍िर के बाहर प्रसाद व‍ितरण करें। हनुमान चालीसा का पाठ करना शुभ रहेगा।

"हे आज की तिथि (तिथि के स्वामी), आज के वार, आज के नक्षत्र (नक्षत्र के देवता और नक्षत्र के ग्रह स्वामी ), आज के योग और आज के करण, आप इस पंचांग को सुनने और पढ़ने वाले जातक पर अपनी कृपा बनाए रखे, इनको जीवन के समस्त क्षेत्रो में सदैव हीं श्रेष्ठ सफलता प्राप्त हो "।

आप का आज का दिन अत्यंत मंगल दायक हो ।

Have something to say? Post your comment

पंचांग में और

गुरुवार का पंचांग : 29 अक्तूबर, 2020; ये है आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय

पंचांग: बुधवार 28 अक्टूबर 2020; देखें आज का शुभमुहूर्त व राहुकाल का समय

पंचांग : 27 अक्टूबर 2020; आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय

सोमवार का पंचांग : 26 अक्तूबर 2020; पढ़े सोमवार का शुभ मुहूर्त व राहुकाल का समय

रविवार का पंचांग: 25 अक्तूबर 2020: आज विजयदशमी : देखें आज का शुभ मुहूर्त का समय

शनिवार का पंचांग : पढ़ें 24 अक्टूबर 2020 का पंचांग, आज है दुर्गा अष्टमी और महागौरी की पूजा, जानें शुभ मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल

शुक्रवार का पंचांग : 23 अक्टूबर 2020; ये है आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय

गुरुवार का पंचांग : 22 अक्टूबर 2020; जानिए आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय

बुधवार का पंचांग : 21 अक्टूबर 2020; ये है आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय

मंगलवार का पंचांग : 20 अक्टूबर 2020; ये है आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल का समय