शुक्रवार का पंचांग : 04 दिसम्बर 2020, जानिए आज का शल शुभमुहूर्त व राहुकाल का समय       शुक्रवार का राशिफ़ल: 04 दिसम्बर 2020; देखिए अपना आज का राशिफ़ल       मुख्यमंत्री से मिला प्रदेश भाजपा महिला मोर्चा का प्रतिनिधिमंडल       भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों ने मुख्यमंत्री से की भेंट       किसान आंदोलन के समर्थन में शिमला में विभिन्न संगठनों का धरना प्रदर्शन       मुख्यमंत्री ने 12.52 करोड़ रुपये की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं की रखी आधारशिला       मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के कर्मचारियों को कोविड रोगियों से फोन पर सम्पर्क कर उनका मनोबल बढ़ाने के निर्देश       मुख्यमंत्री ने प्रतिष्ठित कारोबारी महाशय धर्मपाल के निधन पर जताया शोक       मुख्यमंत्री ने 12.52 करोड़ की विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिला रखीं, सराज की बागा चनोगी उप-तहसील का भी किया लोकार्पण, पढ़े विस्तार से -       गुरुवार का पंचांग : 03 दिसम्बर 2020, जानिए आज का शल शुभमुहूर्त व राहुकाल का समय      

हिमाचल | शिमला

हवाई अड्डों के विस्तार से हिमाचल में पर्यटन क्षेत्र को मिलेगा नया आयामः मुख्यमंत्री

October 30, 2020 06:44 PM

 

शिमला: मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां प्रदेश में हवाई अड्डों के विकास और विस्तार के संदर्भ में आयोजित एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए अधिकारियों को मण्डी जिला के नागचला में ग्रीन फील्ड हवाई अड्डा के निर्माण और कांगड़ा एवं शिमला हवाई अड्डों के विस्तार से जुड़ी विभिन्न औपचारिकताओं के कार्य मंे तेजी लाने के निर्देश दिए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि नागचला हवाई अड्डे के निर्माण के लिए 2936 बीघा भूमि चिन्हित की गई है और जनवरी, 2020 में इस स्थल के लिए स्वीकृति प्राप्त की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्रालय के साथ नवम्बर, 2019 में आयोजित बैठक में यह तय हुआ था कि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण पहले चरण में 2100 मीटर लम्बे रन-वे पर कार्य करेगा। उन्होंने कहा कि हिमाचल सरकार चरण दो के लिए 3150 मीटर भूमि अधिग्रहण करेगी और अतिरिक्त भूमि को बफर जोन के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा। प्रदेश सरकार ने इस ग्रीन फील्ड हवाई अड्डे के विकास और संचालन के लिए संयुक्त उपक्रम कम्पनी के माध्यम से 15 जनवरी, 2020 को एक समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया है।

उन्होंने कहा कि इस महत्वकांक्षी परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण, टर्मिनल भवन, रन-वे और सम्बद्ध गतिविधियों पर 7448 करोड़ रुपये की अनुमानित राशि खर्च होगी। भूमि अधिग्रहण पर 2786 करोड़ रुपये अन्य विकासात्मक गतिविधियों पर 2965 करोड़ रुपये टर्मिनल भवन, रन-वे एवं सम्बद्ध अधोसंरचना पर 900 करोड़ रुपये विभिन्न ढांचों पर 782 करोड़ रुपये जबकि वन संरक्षण अधिनियम के अन्तर्गत क्षतिपूर्ति पर 15 करोड़ रुपये व्यय होंगे। उन्होंने कहा कि इस प्रस्तावित हवाई पट्टी के लिए सुकेती खड्ड के तटीकरण की आवश्यकता होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांगड़ा हवाई अड्डे को ए-320 जैसे एयरक्राफ्ट के संचालन के लिए विकसित करने व विस्तार देने के लिए 1780 बीघा भूमि चिन्हित की गई है। इसके लिए भूमि अधिग्रहण एवं सम्बद्ध कार्यों के लिए 3347.18 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इस हवाई पट्टी के लिए मांझी खड्ड केे तटीकरण के साथ-साथ हवाई अड्डे तक नए सम्पर्क सड़क मार्ग के निर्माण की आवश्यकता होगी।

शिमला हवाई अड्डे के विस्तार का उल्लेख करते हुए जय राम ठाकुर ने कहा कि केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ने नवम्बर, 2019 में इस हवाई अड्डे के रन-वे को विस्तार देने के लिए धनराशि प्रदान करना मंजूर किया है। इस हवाई अड्डे में 300 मीटर के अतिरिक्त लम्बाई जोड़ी जाएगी, जिसके लिए 182-11 बीघा भूमि चिन्हित की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि सामाजिक प्रभाव मूल्यांकन का प्रस्ताव प्रस्तुत किया जा चुका है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मण्डी जिला में ग्रीन फील्ड हवाई अड्डे के निर्माण तथा कांगड़ा एवं शिमला हवाई अड्डों के विस्तार से राज्य में पर्यटन गतिविधियों को नया आयाम मिलेगा। विशेषकर उच्च आय वर्ग के पर्यटक प्रदेश के मनोरम स्थलों का भ्रमण करने के लिए आगे आएंगे। इससे न केवल प्रदेश की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी बल्कि स्थानीय लोगों को रोजगार एवं स्वरोजगार के पर्याप्त अवसर भी उपलब्ध होंगे।पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन विभाग के सचिव देवेश कुमार ने इस अवसर पर प्रदेश द्वारा कार्यान्वित की जा रही विभिन्न परियोजनाओं पर एक प्रस्तुति दी।

 

Have something to say? Post your comment

हिमाचल में और

मुख्यमंत्री से मिला प्रदेश भाजपा महिला मोर्चा का प्रतिनिधिमंडल

भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों ने मुख्यमंत्री से की भेंट

किसान आंदोलन के समर्थन में शिमला में विभिन्न संगठनों का धरना प्रदर्शन

मुख्यमंत्री ने 12.52 करोड़ रुपये की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं की रखी आधारशिला

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के कर्मचारियों को कोविड रोगियों से फोन पर सम्पर्क कर उनका मनोबल बढ़ाने के निर्देश

मुख्यमंत्री ने प्रतिष्ठित कारोबारी महाशय धर्मपाल के निधन पर जताया शोक

मुख्यमंत्री ने 12.52 करोड़ की विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिला रखीं, सराज की बागा चनोगी उप-तहसील का भी किया लोकार्पण, पढ़े विस्तार से -

हिमाचल प्रदेश में अंगूठा लगाकर नहीं, अब आंखें दिखाकर कर मिलेगा डिपुओं में राशन, पढ़े पूरी खबर

विपक्ष कर रहा बेतुकी और अनाप शनाप बयानबाजी: पठानिया

नशें से निपटने के लिए प्रदेश में चलाए जाने चाहिए विशेष अभियान: मुख्यमंत्री