मुख्यमंत्री ने मंडी में शिवधाम की आधारशिला रखी       विधानसभा में हंगामे को लेकर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री समेत 5 विधायकों पर FIR दर्ज       नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर को बदलने की आवश्यकता नही - वीरभद्र सिंह       राज्यपाल के अभिभाषण पर नाराज विपक्ष ने किया हंगामा, जम कर हुई धक्का-मुक्की, हाथापाई तक कि आई नौबत       शुक्रवार का राशिफ़ल: 26 फरवरी 2021; पढ़िए अपनी राशिनुसार आज का अपना भविष्य फल       प्रभु श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए पत्रकारों ने समर्पित की निधि, हिमाचल में अभी तक 12 करोड़ का संग्रह       जय राम ठाकुर ने परिवहन विभाग की ई-परिवहन व्यवस्था का किया शुभारम्भ       नगर निगम शिमला ने पेश किया 222.41 करोड़ रुपए का बजट,बिजली व शराब बढ़ाया सेस       कोविड महामारी के बारे में जागरुकता फैलाने में मीडिया ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिकाः जय राम ठाकुर       प्रदेश में 78 प्रतिशत हेल्थ केयर्स वर्कस को लगा कोरोना का टीका, 25 फरवरी टीकारण की अंतिम तिथि      

देश/विदेश

कुफरी में स्थापित डॉप्लर राडार का हर्षवर्धन ने किया लोकार्पण, सौ किलोमीटर तक के सभी दिशाओं के मौसम की देगा जानकारी

January 15, 2021 07:47 PM

शिमला (के.सी ठाकुर)मौसम का स्टीक पूर्वानुमान न केवल किसानों के लिए उनकी फसलों को प्राकृतिक आपदाओं से बचाने हेतु महत्वपूर्ण है, बल्कि यह पर्यटन के विकास में भी मदद करता है, क्योंकि पर्यटक मौसम के अनुसार अपनी यात्रा योजना बना सकते है। यह बात केन्द्रीय पृथ्वी विज्ञान, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डाॅ. हर्ष वर्धन ने मौसम विज्ञान विभाग के 146वें स्थापना दिवस के मौके पर शिमला के कुफरी और उत्तराखंड के नैनीताल, मुक्तेश्वर में स्थापित पहले डाॅप्पलर मौसम राडार के वर्चुअल माध्यम से लोकार्पण अवसर पर कही।

केन्द्रीय मंत्री ने बहुमिशन मौसम सम्बन्धी डेटा प्राप्त करने एवं प्रसंस्करण प्रणाली का वर्चुअल माध्यम से लोकार्पण किया तथा आॅनलाइन मौसम पत्रिका भी जारी की।

इस अवसर पर वर्चुअली सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कुफरी में राडार को समर्पित करने के लिए केन्द्रीय मंत्री का आभार करते हुए कहा कि राज्य में मण्डी और चम्बा जिला के डलहौजी में दो और राडार स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि राडार स्थापित करने के लिए मण्डी में स्थान चिन्हित कर लिया गया है और डलहौजी में शीघ्र ही चिन्हित कर लिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में कुफरी में स्थापित किया गया राडार दो सप्ताह की अवधि के लिए परीक्षण मोड पर था और उसके पश्चात इसका डेटा का उपयोग पूर्वानुमान के लिए किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इस राडार की रेंज रेडियल दूरी 100 कि.मी. तक है। उन्होंने कहा कि यह सभी दिशाओं में 100 कि.मी. तक के मौसम का डेटा प्रदान करेगा। इसका उपयोग पूर्वानुमान और विशेषकर छोटी रेंज के पूर्वानुमान के लिए किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से विशिष्ट क्षेत्र में मौसम से सम्बन्धित विभिन्न घटनाओं जैसे आंधी तुफान, आसमानी बिजली, ओलावृष्टि, भारी बारिश, बर्फबारी, तेज हवाओं इत्यादि के लिए अधिक स्टीक क्षेत्र विशिष्ट मौसम पूर्वानुमान और चेतावनी जारी की जा सकेगी।

जय राम ठाकुर ने कहा कि डीडब्ल्यूआर से बुनियादी जानकारी प्राप्त करने के उपरान्त परावर्तन प्राप्त किया जाएगा, जो बादल में जल सामग्री का एक मापक होगा। ये विशेष रूप से क्लाउड सेल, बादलों की गति और दिशा सहित बादल के आधार और ऊंचाई के बारे में जानकारी प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि यह केन्द्र प्रदेश के बागवानों और किसानों को मौसम से सम्बन्धित स्टीक जानकारी प्रदान करने में मदद करेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि डीडब्ल्यूआर कुफरी 24 घण्टे क्रियाशील रहेगा तथा ये पूरी तरह से स्वचलित और कम्प्यूट्रीकृत कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि यह डेटा को विभिन्न डिजिटल प्रारूपों और चित्रों के माध्यम से प्रसारित करेगा।

 

Have something to say? Post your comment

देश/विदेश में और

PM Modi के नाम पर दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम, मोटेरा का नाम हुआ 'नरेंद्र मोदी स्टेडियम' पढ़े पूरी खबर

मस्कट में भारतीय राजदूत को हिमाचलियों ने भेंट किया कैलेंडर

उत्‍तराखंड में हिमस्‍खलन से मची तबाही के बीच जानिए कैसे BSNL ने बचाई कई लोगों की जान, पढ़े पूरी खबर..

पुराने और प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों को कबाड़ में देने वालों को नए वाहन खरीद में मिलेंगे कई लाभ : गडकरी

अफवाहें फैलाना प्रेस की आजादी का हिस्सा नहीं : प्रकाश जावड़ेकर

उत्तराखंड के चमोली में टूटा ग्लेशियर, ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट पर काम करने वाले 50 लोग लापता

देश में सभी को फ्री में मिलेगी कोरोना वैक्सीन, पहले चरण में तीन करोड़ लोगों को लगेगा टीका : स्वास्थ्य मंत्री

बच्ची को सेल्फी लेना पड़ा भारी, गले में डाला फंदा, कुर्सी का बिगड़ा बैलेंस फिर हुआ कुछ ऐसा...!

राष्ट्रपति से मिले कांग्रेस नेता, राहुल बोले- कृषि कानूनों को वापस ले सरकार, प्रियंका गांधी हिरासत में, पढ़े विस्तार से..

विदेश की भूमि पर हिंदी भाषा की धूम, मस्कट में लोकप्रियता का आसमान छू रही हिंदी भाषा, पढ़े पूरी खबर..