कुंहर : कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर प्रधान निशा ठाकुर की अध्यक्षता में बैठक आयोजित, ब्लॉक अधिकारी ने पंचायत जनप्रतिनिधियों को किया जागरूक , पढ़े पूरी खबर       हिमाचल में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए टीकाकरण अभियान का मुख्यमंत्री ने किया शुभारम्भ, टीकाकरण के लिए लगी युवाओं की कतारें, पढ़े विस्तार से..       कर्फ्यू में कृषि औजारों और मरम्मत की दुकानें बंद, किसान परेशान, पढ़े पूरी खबर..       कोरोना कफ्र्यू को लेकर डीसी सोलन के आवश्यक आदेश, पढ़े विस्तार से..       सेवा ही संगठन, कोरोना आपदा में भाजपा के लाखों कार्यकर्ता सेवा में जुटे: जे॰पी॰ नड्डा       प्रदेश में कोविड समर्पित 48 अस्पतालों में रात-दिन जारी है मरीजों का उपचार       कोरोना संकट में लोगों की हर सम्भव मदद के लिये तैयार है प्रदेश सरकार: विजय अग्निहोत्री       हिमाचल में शनिवार को आए 4029 नए पॉजिटिव, 4137 मरीज हुए ठीक, पढ़िए कहां कितने सक्रिय केस..       ओटीपी से राशन देने का ट्रायल सफल, डिपुओं में व्यवस्था लागू, पढ़े पूरी खबर       टीकाकरण में हिमाचल प्रदेश देशभर में सर्वोच्च स्थान पर: मुख्यमंत्री      

हिमाचल | शिमला

इंतजार खत्म, रिपन में शुरू हुआ ऑक्सीजन प्लाट

May 02, 2021 09:54 AM

शिमला : शिमला में कोरोना के कारण पैदा हुई स्थिति के बीच रिपन अस्पताल में ऑक्सीजन प्लाट शुरू हो गया है। शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने शनिवार को ऑक्सीजन प्लाट का उद्घाटन किया। इस ऑक्सीजन प्लाट से अब रोजाना एक मिनट के भीतर 300 लीटर ऑक्सीजन तैयार की जाएगी। जिलेभर में दाखिल कोरोना मरीजों को इससे बड़ी राहत मिलेगी । वहीं एक दिन में 4.32 लाख लीटर ऑक्सीजन मरीजों के उपयोग में लाई जा सकेगी। 

ऑक्सीजन प्लाट को अस्पताल के सेंट्रल सिस्टम से जोड़ा गया है इससे ऑक्सीजन सीधे मरीज के बेड तक उपलब्ध करवाई जाएगी । अभी तक सिलेंडर के माध्यम से मरीजों को ऑक्सीजन दी जाती है। सिलेंडर खत्म होने के बाद दूसरा सिलेंडर इस्तेमाल किया जाता है लेकिन सेंट्रल सप्लाई होने के कारण अब यह झझट नहीं रहेगा ।

सेंट्रल सिस्टम के माध्यम से ऑटोमेटिक तरीके से मरीज को ऑक्सीजन दी जाएगी । प्लाट से तैयार की गई ऑक्सीजन के सैंपल दिल्ली भेजे गए थे जोकि पास हो गए हैं। इसके बाद ऑक्सीजन प्लाट को शुरू कर दिया गया है। अस्पताल परिसर में प्लाट स्थापित करने के लिए पार्किंग की जगह खाली करने के बाद जगह उपलब्ध करवाई गई है। मौजूदा समय तक रिपन अस्पताल को ऑक्सीजन की सप्लाई आइजीएमसी या नेरचौक मेडिकल कॉलेज से मंगवानी पड़ती थी। ऑक्सीजन की उपलब्धता कम होने के कारण सिलेंडरों के ऑर्डर देरी से पहुंचते थे। ऐसे में मरीजों को आइजीएमसी रेफर करने की नौबत पढ़ती थी। नहीं रहेगी ऑक्सीजन की कमी: भारद्वाज 

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बताया कि कोविड-19 की दूसरी लहर में कोविड मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई है, जिससे मरीजों को ऑक्सीजन की आवश्यकता भी बढ़ गई है। हिमाचल प्रदेश में 21 टन ऑक्सीजन की खपत है तथा पूरे प्रदेश में 65 टन ऑक्सीजन की उपलब्धता है। इसके मद्देनजर ऑक्सीजन की खपत भी बढ़ेगी। यह ऑक्सीजन प्लाट कोरोना महामारी के बाद भी इस अस्पताल में ऑक्सीजन की आवश्यकता को पूरा करेगा। ऑक्सीजन प्लाट को दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल शिमला में स्थापित करने के लिए भारत सरकार और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को धन्यवाद दिया। 

शहरी विकास मंत्री ने कहा कि शिमला के अस्पतालों में मरीजों की संख्या कम करने के लिए रोहड़ू व रामपुर में ऑक्सीजन का माकूल प्रबंध किया जा रहा है। यदि ऑक्सीजन प्लाट ऊपरी क्षेत्रों में स्थापित होते हैं तो इन क्षेत्रों में ही कोविड मरीजों के साथ-साथ अन्य बीमारियों से ग्रस्त मरीजों को भी ऑक्सीजन की सुविधा मिलेगी ।

Have something to say? Post your comment

हिमाचल में और

कुंहर : कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर प्रधान निशा ठाकुर की अध्यक्षता में बैठक आयोजित, ब्लॉक अधिकारी ने पंचायत जनप्रतिनिधियों को किया जागरूक , पढ़े पूरी खबर

हिमाचल में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए टीकाकरण अभियान का मुख्यमंत्री ने किया शुभारम्भ, टीकाकरण के लिए लगी युवाओं की कतारें, पढ़े विस्तार से..

कर्फ्यू में कृषि औजारों और मरम्मत की दुकानें बंद, किसान परेशान, पढ़े पूरी खबर..

कोरोना कफ्र्यू को लेकर डीसी सोलन के आवश्यक आदेश, पढ़े विस्तार से..

सेवा ही संगठन, कोरोना आपदा में भाजपा के लाखों कार्यकर्ता सेवा में जुटे: जे॰पी॰ नड्डा

प्रदेश में कोविड समर्पित 48 अस्पतालों में रात-दिन जारी है मरीजों का उपचार

कोरोना संकट में लोगों की हर सम्भव मदद के लिये तैयार है प्रदेश सरकार: विजय अग्निहोत्री

हिमाचल में शनिवार को आए 4029 नए पॉजिटिव, 4137 मरीज हुए ठीक, पढ़िए कहां कितने सक्रिय केस..

ओटीपी से राशन देने का ट्रायल सफल, डिपुओं में व्यवस्था लागू, पढ़े पूरी खबर

टीकाकरण में हिमाचल प्रदेश देशभर में सर्वोच्च स्थान पर: मुख्यमंत्री