शिक्षा विभाग की अधिसूचना के बाद भी शिमला के निजी स्कूल कर रहे मनमानी, ऑनलाइन परीक्षाएं करवाने में कर रहे आनाकानी, अभिभावकों ने सौंपा ज्ञापन..       हिमाचल : मुख्यमंत्री ने जेसीसी बैठक में नया पे-कमीशन देने का किया ऐलान, कॉन्ट्रैक्ट कर्मी भी 2 साल बाद होंगे रेगुलर, पढ़े पूरी खबर..       हिमाचल में 'एक बार कांग्रेस एक बार भाजपा' की प्रथा तोड़ेंगी जयराम सरकार, 2022 में फिर बनेगी भाजपा की सरकार - सौदान सिंह       देश में तेजी से बढ़ रहा टीकाकरण का आंकड़ा, बूस्टर डोज को लेकर सरकार पर दबाव, पढ़े पूरी खबर..       ओमिक्रॉन वैरिएंट : बढ़ते खतरे के बीच अधिकारियों के साथ पीएम मोदी की बैठक, कोरोना टीकाकरण की करेंगे समीक्षा       शनिवार का राशिफ़ल : 27 नवम्बर 2021; जाने कैसा रहेगा आपका दिन..       शनिवार का पंचांग: 27 नवम्बर 2021; जाने आज का शुभमुहूर्त का समय       हिमदर्शन सामान्य ज्ञान - किस जानवर का शरीर बुलेट प्रूफ होता है..?       हिमाचल : शिमला जिला के रामपुर में एचआरटीसी बस ने कुचला 8 साल का स्कूली बच्चा, अभिभावक धरने पर बैठे, एनएच पर लगा जाम       शिमला में प्राइवेट केबल टीवी चैनल के दफ्तरों पर ई.डी. की Raid, पढ़े पूरी खबर..      

व्यापार

अब आरबीआई ने भी दी पेट्रोल-डीजल पर टैक्स घटाने की नसीहत ! पढ़े पूरी खबर..

October 11, 2021 10:41 AM
Om Prakash Thakur

नई दिल्ली : पेट्रोल डीजल को जीएसटी यानि गुड्स एन्ड सर्विसेज के दायरे में लाने की लगातार मांग उठ रही है जिससे दोनों ईंधन पर टैक्स का बोझ कम हो सके। लेकिन जीएसटी कॉउंसिल की बैठक में कई राज्यों ने पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने का विरोध किया।

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि ईंधन पर अप्रत्यक्ष करों को चरणबद्व तरीके से नियंत्रित करने के प्रयास से मुद्रास्फीति को कम करने और मुद्रास्फीति की संभावित आशंका को कम करने में मदद मिलेगी। दरअसल केवल अक्टूबर महीने में ही अब आठ बार पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ चुके हैं। राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 103.84 रुपये और डीजल 92.47 रुपये प्रति लीटर में मिल रहा।

तो भोपाल में पेट्रोल 112.38 रुपये और डीजल 101.54 रुपये प्रति लीटर में मिल रहा। केवल अक्टूबर माह में पेट्रोल 2.20 रुपये और डीजल 2.60 रुपये प्रति लीटर महँगा हो चुका है।

महँगे पेट्रोल डीजल के अंतराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दामों में आई तेजी जिम्मेदार है हालांकि यह भी सच है कि पेट्रोल डीजल की कीमतों में आधा हिस्सा इस पर केंद्र और राज्यों द्वारा वसूले जाने वाले टैक्स का है। केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी तो राज्य सरकारें वैट वसूलती है।

कोविड महामारी के दौरान जब कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट आई थी तब सरकार ने पेट्रोल डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में बेतहाशा बढ़ोतरी कर दी जिसे अब तक वापस नहीं लिया गया है। पिछले वर्ष कोरोना काल के दौरान केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 13 रूपये और डीजल पर 16 रूपये एक्साइज ड्यूटी और इंफ्रास्ट्रक्चर सेस के नाम पर टैक्स बढ़ाया था। जैसे ही पेट्रोल डीजल महँगा होता है एड वेलोरम वैट वसूले जाने के कारण राज्यों द्वारा वसूला जाने वाला वैट भी अपने आप बढ़ जाता है।

पेट्रोल डीजल को जीएसटी यानि गुड्स एन्ड सर्विसेज के दायरे में लाने की लगातार मांग उठ रही है जिससे दोनों ईंधन पर टैक्स का बोझ कम हो सके। लेकिन हाल ही में हुए जीएसटी कॉउंसिल की बैठक में कई राज्यों ने पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने का पुरजोर विरोध किया। क्योंकि राज्यों के राजस्व का ये बड़ा स्रोत है।

वहीं पेट्रोल डीजल पर टैक्स नहीं घटा तो आम लोगों को इसकी महँगाई और परेशान कर सकती है क्योंकि कई जानकार कच्चे तेल के दामों में भारी उछाल की आशंका जाहिर कर रहे हैं। गोल्डमैन सैक्स ने तो कच्चे तेल की कीमतों के 90 डॉलर प्रति बैरल पर जाने की भविष्यवाणी की है। ऐसा हुआ तो जाहिर है महँगाई लोगों को और सता सकती है। साथ ही सस्ते ब्याज दर का दौर भी खत्म हो सकता है।

Have something to say? Post your comment

व्यापार में और

नवरात्र में ज्वेलरी पर ऑफर की बहार, इस बार नवरात्र में खरीदें गहनें, भूषण ज्वैलर्स सोलन में हर खरीदारी पर शानदार नवरात्रि ऑफर पाएं..

SBI के एटीएम से जा रहे हैं पैसा निकालने तो हो जाएं सावधान, एक चूक पड़ सकती है भारी

RBI ने नहीं घटाया रेपो रेट, जानिए कहां मिल रहा सस्ता होम लोन

Success Story : लाचार औरतों के आंसू लक्ष्मी के दिल पर गिरे तो खड़ा कर दिया बैंक

अगर मोबाइल टावर लगवाने की सोच रहें तो पढ़ें यह खबर, कभी नहीं खाएंगे धोखा

राहत भरा रविवार: पेट्रोल-डीजल के रेट जारी, चेक करें अपने शहर का दाम

आभूषण के बाजार में विश्वास जरूरी, ग्राहकों के साथ रिश्‍ता होता है मजबूत - विनय गुप्ता

GST Registration online कैसे और कहां करें ? यह आर्टिकल ध्यान से पढ़ें !

Apple ने लान्च किया iPhone 12 Pro Max, जानें फीचर

होंडा की कारों पर सितंबर में बंपर 2.50 लाख तक की छूट