हिमाचल : मुख्यमंत्री ने जेसीसी बैठक में नया पे-कमीशन देने का किया ऐलान, कॉन्ट्रैक्ट कर्मी भी 2 साल बाद होंगे रेगुलर, पढ़े पूरी खबर..       हिमाचल में 'एक बार कांग्रेस एक बार भाजपा' की प्रथा तोड़ेंगी जयराम सरकार, 2022 में फिर बनेगी भाजपा की सरकार - सौदान सिंह       देश में तेजी से बढ़ रहा टीकाकरण का आंकड़ा, बूस्टर डोज को लेकर सरकार पर दबाव, पढ़े पूरी खबर..       ओमिक्रॉन वैरिएंट : बढ़ते खतरे के बीच अधिकारियों के साथ पीएम मोदी की बैठक, कोरोना टीकाकरण की करेंगे समीक्षा       शनिवार का राशिफ़ल : 27 नवम्बर 2021; जाने कैसा रहेगा आपका दिन..       शनिवार का पंचांग: 27 नवम्बर 2021; जाने आज का शुभमुहूर्त का समय       हिमदर्शन सामान्य ज्ञान - किस जानवर का शरीर बुलेट प्रूफ होता है..?       हिमाचल : शिमला जिला के रामपुर में एचआरटीसी बस ने कुचला 8 साल का स्कूली बच्चा, अभिभावक धरने पर बैठे, एनएच पर लगा जाम       शिमला में प्राइवेट केबल टीवी चैनल के दफ्तरों पर ई.डी. की Raid, पढ़े पूरी खबर..       जयराम ठाकुर के विरोधियों की बोलती बंद, हिमाचल में जयराम के नेतृत्व में ही आगे बढ़ेगी पार्टी और सरकार, होंगे आगामी चुनाव में CM का चेहरा, पढ़े पूरी खबर..      

हिमाचल

हिमाचल : उपचुनाव में भाजपा की हार पर बड़े स्तर पर हो रहा मंथन, पहले दिन भितरघात की ये बाते आई सामने, पढ़े पूरी खबर, विस्तार से..

November 25, 2021 09:01 AM
Om Prakash Thakur

भाजपा कार्यसमिति की बैठक: उपचुनाव में भाजपा की हार पर बड़े स्तर पर हो रहा मंथन, पहले दिन भितरघात की बाते आई सामने, पढ़े पूरी खबर, विस्तार से..

शिमला : (हिमदर्शन न्यूज़); मंडी संसदीय सीट के अलावा फतेहपुर, जुब्बल-कोटखाई और अर्की विधानसभा में हुए उपचुनाव में भाजपा की हार पर शिमला में पार्टी की कार्यसमिति की बैठक में बुधवार को बड़े स्तर पर मंथन हुआ। राज्य अतिथि गृह में शुरू हुई तीन दिवसीय बैठक के पहले दिन यह बात सामने आई कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गृह क्षेत्र की मंडी लोकसभा सीट पर भितरघात हार का कारण रहा है तो वहीं वीरभद्र फैक्टर ने भी भाजपा को परास्त किया। यहां टिकट पर भी पुनर्विचार हो सकता था।

वहीं जुब्बल-कोटखाई में भी भाजपा टिकट आवंटन से चूक गई। अर्की और फतेहपुर में अपनों ने ही दगा दिया। यहां भी टिकट देने के लिए अन्य विकल्प पर विचार हो सकता था। भाजपा के प्रभारी मंत्रियों का भी कमजोर प्रदर्शन कोर ग्रुप की बैठक में चर्चा का विषय बना रहा।

प्रदेश भाजपा नेताओं ने पार्टी प्रभारी अविनाश राय खन्ना और सह प्रभारी संजय टंडन के सामने हार के कई कारण गिनाए। दोपहर बाद करीब 4 बजे शुरू हुई बैठक रात करीब 10 बजे तक चली। पार्टी सूत्रों के अनुसार बैठक में मंडी जिले से भाजपा का अच्छा प्रदर्शन मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का गृह क्षेत्र होने के नाते उनके सीएम पद के रसूख के नाते माना गया, मगर यहां भी भाजपा के कुछ नेताओं के भितरघात की बातें सामने आईं।

कुल्लू जिले में मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर के कमजोर प्रदर्शन पर भी चिंता जताई गई। लाहौल-स्पीति से मंत्री रामलाल मारकंडा के भी लीड न दिला पाने पर अफसोस जताया गया। वरिष्ठ मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर कहां चूके और उनके उपचुनाव से पहले आए विवादित बयानों के घाटे-नफे क्या रहे, इस पर भी विचार-विमर्श हुआ। ब्रिगेडियर कुशाल चंद के बजाय अगर अन्य उम्मीदवार होता तो जीत के कितने करीब होते, इस बारे में भी चर्चा हुई।

अर्की में गोविंद राम शर्मा और आशा परिहार के प्रचार न करने के एलान से भी नुकसान की बातें सामने आईं और यहां से प्रत्याशी रत्न सिंह पाल का पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ तालमेल न बन पाने का कारण भी उजागर हुआ। वीरभद्र सिंह यहां से विधायक थे तो उनके सहानुभूति फैक्टर के इस सीट पर प्रभाव से भी इंकार नहीं किया गया। फतेहपुर में टिकटार्थी पूर्व राज्यसभा सांसद कृपाल परमार की नाराजगी, पूर्व भाजपा सांसद राजन सुशांत का निर्दलीय चुनाव लड़ना, यहां पिछले बागी बलदेव शर्मा को टिकट देने जैसे कई कारणों पर भी हार का कारण आंका गया।

पूर्व मंत्री दिवंगत सुजान सिंह पठानिया के अपने प्रभाव और उनके बेटे भवानी पठानिया के चुनाव लड़ने को भी भाजपा की हार की वजह माना गया। जुब्बल-कोटखाई में कमजोर प्रत्याशी को टिकट देना और भाजपा की बड़े स्तर पर बगावत हार की वजह बनी। यह भी बात उठी कि यहां पूर्व मंत्री दिवंगत नरेंद्र बरागटा ने भाजपा को खड़ा किया था, उनके बेटे चेतन बरागटा की उपेक्षा करना भाजपाइयों को नाराज कर गया। बैठक में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल, सतपाल सिंह सत्ती, राजीव बिंदल, संगठन महामंत्री पवन राणा, महामंत्री त्रिलोक जमवाल, राकेश जमवाल, त्रिलोक कपूर और स्वास्थ्य मंत्री राजीव सैजल मौजूद रहे।

साभार )

Have something to say? Post your comment

हिमाचल में और

हिमाचल : मुख्यमंत्री ने जेसीसी बैठक में नया पे-कमीशन देने का किया ऐलान, कॉन्ट्रैक्ट कर्मी भी 2 साल बाद होंगे रेगुलर, पढ़े पूरी खबर..

हिमाचल में 'एक बार कांग्रेस एक बार भाजपा' की प्रथा तोड़ेंगी जयराम सरकार, 2022 में फिर बनेगी भाजपा की सरकार - सौदान सिंह

हिमाचल : शिमला जिला के रामपुर में एचआरटीसी बस ने कुचला 8 साल का स्कूली बच्चा, अभिभावक धरने पर बैठे, एनएच पर लगा जाम

शिमला में प्राइवेट केबल टीवी चैनल के दफ्तरों पर ई.डी. की Raid, पढ़े पूरी खबर..

जयराम ठाकुर के विरोधियों की बोलती बंद, हिमाचल में जयराम के नेतृत्व में ही आगे बढ़ेगी पार्टी और सरकार, होंगे आगामी चुनाव में CM का चेहरा, पढ़े पूरी खबर..

मंडी : डीएफओ हेडक्वार्टर मंडी ने बीबीएमबी झील में कूदकर दी जान

हाईकोर्ट का फैसला : कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग करने पर प्रार्थियों की याचिका खारिज की, 1.20 लाख रुपए की कॉस्ट भी लगाई

वन निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रथम जुलाई, 2021 से छह प्रतिशत महंगाई भत्ता देने का निर्णय

शिमला : महंगाई के खिलाफ़ सीपीएम ने उपायुक्त कार्यालय से नाज़ तक निकाला जलूस, भाजपा सरकार को बताया आमजन विरोधी, पढ़े पूरी खबर..

भाजपा ने किया हार पर मंथन, बोले महंगाई व भितरघात के कारण हुई हार, अनुशासन हीनता के खिलाफ होगी कड़ी कार्यवाही, पढ़े पूरी खबर..