10 अगस्त से शुरू होगा हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र, सत्र में गुंजेंगे 367 सवाल       राज्य सरकार की रोक के बाद भी शिमला जीपीओ में आबंटित हो रहे खराब गुणवत्ता वाले तिरंगे, पढ़े पूरी खबर..       संजौली कॉलेज मेरिट सूची 2022 : संजौली कॉलेज की प्रथम वर्ष की मेरिट लिस्ट जारी, किस श्रेणी की कितनी गई कट आफ लिस्ट, देखें       हिमाचल के कांगड़ा में मिला पाकिस्तानी ग्रेनेड, स्वतंत्रता दिवस से पूर्व ग्रेनेड मिलने से लोगों में हड़कंप, पढ़े पूरी खबर..       शिमला में किसान बागवानों ने निकाली आक्रोश रैली, हरीश चौहान बोले- बागवानों को हल्के में लेने की गलती कर रही प्रदेश सरकार..       महंगाई व बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल, शिमला में राजभवन का किया घेराव, पढ़ें पूरी खबर..       राज्यपाल ने की प्रदेशवासियों से हर घर तिरंगा’ अभियान में शामिल होने की अपील       साइकिल व सरकारी बस में ज़ोरदार टक्कर, एक घायल       बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस का 5 अगस्त को राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन, शिमला में करेंगे राजभवन का घेराव..       हिमाचल निर्माता प्रथम मुख्यमंत्री डॉ यसवंत सिंह परमार जयंती पर शिमला के पीटरहोफ में मनाया गया राज्य स्तरीय कार्यक्रम, अर्पित किए गए श्रद्धा सुमन      

धर्म/संस्कृति | कांगड़ा

मां बगलामुखी के जन्मोत्सव पर हजारों श्रद्धालु हुए नतमस्तक, मंदिर में उमड़ा श्रद्धा का सैलाब, पढ़े पूरी खबर..

May 10, 2022 11:21 AM
माँ के दरबार मे आचार्य दिनेश रत्न जी पूजा अर्चना करते हुए..

काँगड़ा/बनखंडी: (हिमदर्शन समाचार); शत्रुनाशिनी मां बगलामुखी देवी का जन्मोत्सव 2 वर्षों के बाद हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। मंदिर को पुष्पों से सजाया गया था। पिछले 2 साल कोरोना महामारी के कारण जन्मोत्सव पर कोई विशेष कार्यक्रम आयोजित नहीं हो सका था , लेकिन इस बार के बनखंडी बगलामुखी मन्दिर में हजारों श्रद्धालु मां बगलामुखी दरबार में नतमस्तक हुए और पूजा अर्चना करवाई ।

सोमवार सुबह से ही श्रद्धालुओं की कतारें मां के दर्शन करने के लिए लग गई थीं , लेकिन गत दिनों तपोवन विधानसभा भवन के बाहर विवादित झंडे व नारे लिखे जाने के बाद हिमाचल के सभी बॉर्डर सील कर दिए हैं जिसकी वजह से बाहरी श्रद्धालुओं की आमद थोड़ी कम रही । मां बगलामुखी के दर्शनों के लिए आए हुए श्रद्धालुओं के लिए मंदिर प्रशासन ने पार्किंग, पेयजल व्यवस्था व लंगर के लिए पुख्ता प्रबंध किए थे।

मंदिर के मुख्य प्रबंधक महंत रजत गिरी, आचार्य दिनेश रत्न व मंदिर के वरिष्ठ ब्राह्मणों द्वारा विश्व शांति के लिए हवन - यज्ञ किया गया। मां बगलामुखी को 56 प्रकार के व्यंजनों का भोग लगाया गया ।

 

Have something to say? Post your comment

धर्म/संस्कृति में और

सावन 2022 : सावन के पहले सोमवार को शिवलिंग पर चढ़ाएं ये एक चीज, बदल जाएगी तकदीर..

शनि जयंती- 2022: शनि जयंती पर 30 साल बाद अद्भुत संयोग, आज सूर्यास्त से पहले जरूर करें ये 5 काम, पढ़े विस्तार से..

प्रसिद्ध शक्तिपीठ चिंतपूर्णी मंदिर में उमड़ा आस्था का सैलाब, माता रानी के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की दिनभर लगी रही कतारें, पढ़े पूरी खबर..

बगलामुखी जयंती 2022: आज मां बगलामुखी जयंती पर पढ़ें माता की उत्पत्ति की रोचक कथा, जानें पूजा की विधि और महत्व..

सियासत: मनीष सिसोदिया बोले- भाजपा ने पार्टी में उन लोगों को शामिल किया जिन्हें हम निकालने वाले थे

दुर्गा अष्टमी के दिन नैना देवी मंदिर में उमड़ी भक्तों की भीड़ -

हनुमान जन्मोत्सव 2022 कब है, जानें तिथि, पूजा का शुभ मुहूर्त और महत्व

आज से चैत्र नवरात्रि शुरु, इस मुहूर्त में करें घटस्थापना, किस दिन कौन सा नवरात्र, पढ़े पूरी खबर..

ज्वाला देवी मंदिर, 51 शक्तिपीठों में से माँ का सबसे चमत्कारिक मंदिर, नौं ज्वालायें मानी जाती है माँ के नौं रूपों की प्रतीक, जाने विस्तार से..

महाशिवरात्रि की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं, महाशिवरात्रि पर आज बनने जा रहा है शुभ संयोग, जानें मुहूर्त और पूजा विधि..