10 अगस्त से शुरू होगा हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र, सत्र में गुंजेंगे 367 सवाल       राज्य सरकार की रोक के बाद भी शिमला जीपीओ में आबंटित हो रहे खराब गुणवत्ता वाले तिरंगे, पढ़े पूरी खबर..       संजौली कॉलेज मेरिट सूची 2022 : संजौली कॉलेज की प्रथम वर्ष की मेरिट लिस्ट जारी, किस श्रेणी की कितनी गई कट आफ लिस्ट, देखें       हिमाचल के कांगड़ा में मिला पाकिस्तानी ग्रेनेड, स्वतंत्रता दिवस से पूर्व ग्रेनेड मिलने से लोगों में हड़कंप, पढ़े पूरी खबर..       शिमला में किसान बागवानों ने निकाली आक्रोश रैली, हरीश चौहान बोले- बागवानों को हल्के में लेने की गलती कर रही प्रदेश सरकार..       महंगाई व बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल, शिमला में राजभवन का किया घेराव, पढ़ें पूरी खबर..       राज्यपाल ने की प्रदेशवासियों से हर घर तिरंगा’ अभियान में शामिल होने की अपील       साइकिल व सरकारी बस में ज़ोरदार टक्कर, एक घायल       बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस का 5 अगस्त को राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन, शिमला में करेंगे राजभवन का घेराव..       हिमाचल निर्माता प्रथम मुख्यमंत्री डॉ यसवंत सिंह परमार जयंती पर शिमला के पीटरहोफ में मनाया गया राज्य स्तरीय कार्यक्रम, अर्पित किए गए श्रद्धा सुमन      

हिमाचल | शिमला

वन विभाग में अवार्ड वितरण में हुई बंदरबांट, 15 अगस्त से सिर पर कफ़न बांधकर करेंगे आमरण अनशन: प्रकाश बादल

August 03, 2022 02:27 PM

शिमलाः (हिमदर्शन समाचार); वन विभाग ने कर्मचारियों के लिए पुरस्कारों का ऐलान किया है। यह पुरस्कार उन कर्मचारियों को प्रदान किए जाएंगे, जिन्होंने पौधारोपण समेत वनों के संरक्षण में बड़ा रिकार्ड अपने नाम दर्ज किया है लेकिन इन पुरस्कारों के वितरण से पूर्व ही बड़ा बवाल विभाग के अंदर हो गया है। वन विभाग मिनिस्ट्रियल स्टाफ एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश बादल ने इन पुरस्कारों में बंदरबाँट का आरोप लगाया है और इन अवार्ड को वापिस लेने की मांग की है।

प्रकाश बादल ने शिमला में पत्रकार वार्ता के दौरान कहा कि अवार्ड की इस लिस्ट में आग बुझाते मौत के मुंह में समा गए कर्मचारी का नाम तक शामिल नहीं है। इसके साथ ही चौपाल और चंबा में वन माफिया के साथ भिड़ंत में चोटिल हुए दो वन रक्षकों को भी पुरस्कार लायक नहीं माना गया है। अधिकारीयों की चमचागिरी करने वालों को जिन्होंने कोई उत्कृष्ट काम नहीं किया उन्हें अवार्ड दिए गए हैं।

इन्हें अगर वापिस नहीं लिया जाता है तो इसके खिलाफ वह 15 अगस्त से आमरण अनशन करेंगे। उन्होंने बताया कि उनके लिए परिवार का पालन पोषण करना भी जरूरी है। इस दौरान वह सर पर कफ़न बांधकर ऑफिस का काम करेंगे उसके बाद कुछ समय रिज पर महात्मा गाँधी व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की प्रतिमा के सामने मौन प्रदर्शन करेंगे। उसके बाद रोजाना की तरह घर लौटेंगे पर अन्न जल ग्रहण नहीं करेंगे।

Have something to say? Post your comment

हिमाचल में और

10 अगस्त से शुरू होगा हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र, सत्र में गुंजेंगे 367 सवाल

10 अगस्त से शुरू होगा हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र, सत्र में गुंजेंगे 367 सवाल

राज्य सरकार की रोक के बाद भी शिमला जीपीओ में आबंटित हो रहे खराब गुणवत्ता वाले तिरंगे, पढ़े पूरी खबर..

राज्य सरकार की रोक के बाद भी शिमला जीपीओ में आबंटित हो रहे खराब गुणवत्ता वाले तिरंगे, पढ़े पूरी खबर..

संजौली कॉलेज मेरिट सूची 2022 : संजौली कॉलेज की प्रथम वर्ष की मेरिट लिस्ट जारी, किस श्रेणी की कितनी गई कट आफ लिस्ट, देखें

हिमाचल के कांगड़ा में मिला पाकिस्तानी ग्रेनेड, स्वतंत्रता दिवस से पूर्व ग्रेनेड मिलने से लोगों में हड़कंप, पढ़े पूरी खबर..

शिमला में किसान बागवानों ने निकाली आक्रोश रैली, हरीश चौहान बोले- बागवानों को हल्के में लेने की गलती कर रही प्रदेश सरकार..

महंगाई व बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल, शिमला में राजभवन का किया घेराव, पढ़ें पूरी खबर..

राज्यपाल ने की प्रदेशवासियों से हर घर तिरंगा’ अभियान में शामिल होने की अपील

साइकिल व सरकारी बस में ज़ोरदार टक्कर, एक घायल